Q. - भारत में विदेशियों के आगमन का सही कालानुक्रम है?

A - आर्य > यूनानी > शक > हूण > तुर्क

B - यूनानी > आर्य > शक > हूण > तुर्क

C - आर्य > शक > यूनानी > तुर्क > हूण

D - शक > हूण > तुर्क > यूनानी > आर्य


Answer. - a

प्राचीन भारत के अनेकानेक मानव-प्रजातियों का संगम रहा है। इनमें आर्य > यूनानी > शक > हूण > तुर्क आदि अनेक प्रजातियाँ शामिल थीं। ये सभी समुदाय और इनके सारे सांस्कृतिक वैशिष्ट्य आपस में इस तरह नीरक्षीरवत् हो गए कि आज उनमें से किसी को भी उनके मूल रूप से साफ-साफ पहचा नहीं सकते हैं।


You need to login to write a comment!

comments